Monday, July 6, 2009

नक्सल आपरेशन,हाईटेक होगे जवान.


रायपुर नक्सल आपरेशन में लगे जवानों को हाइटेक करने की योजना केन्द्रीय गृह विभाग के नक्सल सेल ने बनाई है। जिसमें नक्सल इलाके में तैनात राज्य पुलिस के जवान भी शामिल रहेगें। इसके लिए बुलेट प्रूफ जैकेट और सेटेलाइट सेल फोन देने की तैयारी की जा रही है। नक्सल आपरेशन में लगे जवानों को हाइटेक करने की योजना पर अमल बस्तर संभाग में तैनात फोर्स से शुरु की जाएगी। ङाारखंड,उड़ीसा,महाराष्ट्र के नक्सल प्रभावित इलाकों में फोर्स को अत्यधिक समस्या का सामना नहीं करना पड़ता है। वहीं बस्तर संभाग में घने जंगलो और ऊंचे पहाडिय़ों के बीच विकराल समस्या से गुजरना पड़ता है। यहां सर्चिग के दौरान फोर्स का संर्पक तंत्र टूट जाता है। इसका भरपूर फायदा नक्सली उठाते है। अन्य राज्यों के मुकाबले नक्सली सबसे ज्यादा हमले बस्तर में करते है। नक्सलियों से मुठभेड़ के समय सही पोजीशन (छुपने का स्थान) नहीं मिल पाता है। इस कारण जवान गोलीबारी के शिकार हो जाते हंै। नक्सल आपरेशन विशेषज्ञों ने माना कि विस्फोट के साथ ही नक्सली चारो तरफ से गोलीबारी शुरु कर देते हैं। इस दौरान फोर्स को संभालने का मौका नहीं मिलता है। ऐसी घटनाओं को देखते हुए आपरेशन में जाने वाले जवानों को बुसे पहले फोर्स को जो जैकेट मिलता था। उसका वजन ज्यादा रहता था। इससे जवान सर्चिग के दौरान थक जाते थे। राज्य पुलिस न्लेट प्रूफ जैकेट देने की योजना बनाई गई है। इसो भी अपने स्तर पर खरीदी के लिए प्रयास शुरु कर दी है। बुलेट प्रूफ का उपयोग एटीएस (आतंकवाद निरोधक दस्ता) के जवान भी करेगें। अधिकारिक सूत्रो के मुताबिक लगातार केन्द्रीय गृह विभाग के नक्सल सेल द्वारा नक्सल प्रभावित राज्यों के गृह मंत्री व पुलिस प्रमुखों से बैठक होते रहती है। जिसमें ऐसी योजना तैयार की गई है। बाक्सहाइटेक कर ज्वाइंट आपरेशन ,डीजीपी डीजीपी विश्वरंजन ने बताया कि बस्तर में तैनात अर्धसैनिक बल और जिला बल अपने अपने थाना क्षेत्रों में संयुक्त अभियान चलाते हंै। केन्द्रीय गृह विभाग ने फोर्स को हाइटेक करने की योजना पर काम शुरु कर दिया है।बाक्सफोर्स के लिए वरदान बस्तर में तैनात फोर्स को नक्सली अक्सर घने जंगल में ही घेराबंदी कर मात दे पाते हैं। लेकिन सेटेलाइट फोन और हल्के वजन वाली बुलेट प्रूफ जैकेट जवानों के लिए वरदान साबित होगी। सेटेलाइट के जरिए वह दिशा ज्ञान के साथ साथ अपने दूसरे साथियों को भी मदद के लिए बुला पाएगें।

No comments: